TimesSpeak.com

Welcome To The World Of News Articles

Times speak
Latest News

SSC पेपर लीक मामला जाने यहाँ

SSC पेपर लीक मामला जाने यहाँ

Times speak
Times speak

SSC पेपर लीक मामला में सीबीआई जांच की मांग वाली याचिका पर सुनवाई को सुप्रीम कोर्ट तैयार हो गया है। 12 मार्च को सुनवाई होगी। वकील एमएल शर्मा ने दाखिल याचिका की है। याचिका में पूरे घोटाले और पेपर लीक की कोर्ट की निगरानी में सीबीआई से जांच कराने की मांग की गई है। चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा ने कहा कि अगले सोमवार को सुनवाई करेंगे।

शर्मा ने कहा कि ये गंभीर मामला है और दो लाख से ज्यादा छात्रों की बात है। सीबीआई जांच को लेकर छात्र धरने पर बैठे हैं। सरकार इस मामले में कुछ नहीं कर रही है और ऐसे में कोर्ट अपनी निगरानी में सीबीआई जांच कराए।

बता दें कि प्रश्नपत्र कथित तौर पर लीक होने के मामले की सीबीआई जांच की सिफारिश करने का निर्णय लिया है। वहीं रविवार को बीजेपी की ओर से सांसद मीनाक्षी लेखी और दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष मनोज तिवारी पहुंचे और उन्होंने कहा कि सरकार ने CBI जांच की बात मान ली है। छात्र फिर भी नहीं माने  उन्होंने कहा कि जब तक सरकार लिखित में नहीं देगी तब तक आंदोलन ख़त्म नहीं होगा।

शशि थरूर ने ट्वीट करके क्या कहा

Times speak
Times speak
Times speak
Times speak

छात्रों का प्रदर्शन

Times speak
Times speak

एसएससी प्रमुख असीम खुराना ने एक बयान में कहा कि कथित पेपर लीक के विरोध में प्रदर्शन कर रहे अभ्यर्थियों का एक प्रतिनिधिमंडल उनसे मिला और एक ज्ञापन सौंपा। उनके साथ दिल्ली भाजपा अध्यक्ष मनोज तिवारी भी थे।उन्होंने 17 से लेकर 22 फरवरी तक आयोजित हूई परीक्षा में प्रश्नपत्रों के लीक होने के मामले में सीबीआई जांच की मांग की है।

बयान में कहा गया है कि आयोग ने 21 फरवरी को हुई परीक्षा के प्रश्नपत्र-1 के प्रश्न लीक होने से जुड़े आरोपों की सीबीआई जांच की सिफारिश कार्मिक एवं प्रशिक्षण विभाग से करने पर सहमति जताई है। इससे पहले तिवारी ने प्रदर्शनकारी छात्रों के साथ केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह से मुलाकात की थी और एसएससी अभ्यर्थियों की चिंताओं के बारे में उनको जानकारी दी।

एसएससी परीक्षा को रद्द करने और इसकी सीबीआई जांच कराने को लेकर अन्ना हजारे ने प्रधानमंत्री और मानव संसाधन मंत्री को चिट्ठी लिखी है। अपनी मांग को लेकर छात्र 27 फरवरी से दिल्ली में एसएससी मुख्यालय के बाहर  धरने पर बैठे है। और देश के तमाम शहरों में भी छात्र हजारों की संख्या में प्रदर्शन कर रहे हैं। इन छात्रों का कहना है कि जब तक इनकी मांग मानी नही जाती है तब तक इनका आंदोलन जारी रहेगा।

SSC का क्या कहना है

Times speak
Ashim khurana

एसएससी ने इन आरोपों को शुरू में ख़ारिज कर दिया था और प्रदर्शनकारियों से सबूत पेश करने को कहा था।

अब तक का घटनाक्रम

Times speak
Times speak
  • 17 फरवरीः एसएससी ने नई दिल्ली के मोहन कोऑपरेटिव इंडस्ट्रियल एस्टेट स्थित परीक्षा केंद्र एनीमेट इंफोटेक की परीक्षा रद्द कर दी। परीक्षा में गड़बड़ियों के आरोप थे।
  • 21 फरवरीः एसएससी ने अपने आधिकारिक सूचना में कहा कि ऑनलाइन परीक्षा आयोजित कराने वाली कंपनी ने तकनीकी परेशानी की बात कही है, जिसके कारण परीक्षा दोपहर 12.10 में शुरू की गई।
  • 24 फरवरीः एसएससी ने 21 फरवरी को आयोजित पेपर वन की परीक्षा रद्द कर दी।
  • 27 फरवरीः सैंकड़ों छात्र एसएससी मुख्यालय के बाहर जुटे। एसएससी ने छात्रों की टीम से मिलने की बात कही और कथित लीक से जुड़े दस्तावेज़ों को पेश करने को कहा।
  • 28 फरवरीः एसएससी ने परीक्षार्थियों की टीम से मिलने के बाद पुख़्ता सबूत एक मार्च की सुबह 10.30 बजे तक पेश करने को कहा। एसएससी का कहना था कि अगर सबूत सही पाए गए तो वो स्वतंत्र जांच एजेंसी से मामले की जांच की सिफ़ारिश करेंगे।
  • 1 मार्चः एसएससी के अध्यक्ष के जारी नोटिस के मुताबिक़ छात्रों की एक टीम ने गृहमंत्री से मुलाक़ात की। गृहमंत्री के निर्देश के मुताबिक़ एसएससी को मामले की जांच के लिए कहा गया है।

अब अगर एसएससी की 2017 में हुई सभी परीक्षा कैंसिल कर दी जाती हैं तो इससे कई युवकों को गहरा आघात पहुचेगा। अब आगे एसएससी क्या करती है ये जानने के लिए आप हमसे जुढ़े रहिये।

आपको यह जानकारी कैसी लगी कमेंट करके बताएं और अपने दोस्तों से भी शेयर करें।

LEAVE A RESPONSE

Your email address will not be published.