TimesSpeak.com

Welcome To The World Of News Articles

Bollywood Gajab Facts Latest News

शाहरूख खान की जीरो में कटरीना कैफ आयीं नजर

  • शाहरूख खान की जीरो में कटरीना कैफ आयीं नजर

सब लोग अलग अलग तरीके से नया साल मनाते हैं। उसी तरह बॉलीवुड के बादशाह कहे जाने वाले शाहरुख खान ने भी अपना नया साल कुछ इस तरह मनाया। उन्होंने नए साल पर शाम होते-होते अपनी आने वाली फिल्म ज़ीरो का टीजर रिलीज किया है, जो कि 1 मिनट का है जो आप सभी लोगों ने देखा होगा|

लेकिन आपने यह नोटिस नहीं किया होगा, कि उस टीजर में कटरीना कैफ भी दिखाई देती है। जी हां बिल्कुल जब आप उस टीजर को बार बार देखेंगे तो आपको कटरीना नजर आ ही जायेगी अगर आप अभी भी समझ नहीं पा रहे हैं कि कटरीना कैफ कहाँ हैं तो आप चिंता बिलकुल मत कीजिये हम आपको बताएँगे की कटरीना कैफ कहाँ हैं।

सबसे पहले हम आपको बता दे की जीरो शाहरुख़ की इस साल के अंत में आने वाली फ़िल्म है जिसमे उन्होंने एक बौने का किरदार निभाया है, आनंद एल राय के साथ ये उनकी पहली फिल्म है । इस टीजर की बात करें तो इसमें शाहरूख खान ने इस एक मिनट के टीजर में कई ड्रेस में दिखते हैं। जब आप इस टीजर को 0.29 सेकंड पर देखेंगे तो आपको शाहरूख की जैकेट में कटरीना कैफ की तस्वीर नजर आएगी।


इस फ़िल्म के जरिये शाहरूख खान, अनुष्का शर्मा, और कटरीना कैफ तीनो एक साथ दिखने वाले हैं इससे पहले ये तीनो जब तक है जान में नजर आये थे।


इस टीजर को लेकर सोशल मीडिया पे कई तरह की बाते की जा रही हैं। कुछ लोगों का कहना है कि शाहरूख की इस फ़िल्म का प्रचार पैट्रोल पंप वाले फ्री में ही करेंगे क्योकि वो हर कस्टमर से मीटर की तरफ इशारा करके कहेगे सर ज़ीरो देखना।
पर ये बात तो तय है की इस फ़िल्म में शाहरूख का डायलाग “हम जिसके पीछे लग जाते हैं लाइफ बना देते हैं” लोगों को काफी पसंद आ रहा है।

शाहरूख खान

शाहरुख़ ख़ान का जन्म 2 नवम्बर 1965 को हुआ। जिन्हें अक्सर शाहरुख खान के रूप में श्रेय दिया जाता है और अनौपचारिक रूप में एस आर के नाम से सन्दर्भित किया जाता, एक भारतीय फ़िल्म अभिनेता है। अक्सर मीडिया में इन्हें “बॉलीवुड का बादशाह”, “किंग खान”, “रोमांस किंग” और किंग ऑफ़ बॉलीवुड नामों से पुकारा जाता है। खान ने रोमैंटिक नाटकों से लेकर ऐक्शन थ्रिलर जैसी शैलियों में 75 हिन्दी फ़िल्मों में अभिनय किया है। फिल्म उद्योग में उनके योगदान के लिये उन्होंने तीस नामांकनों में से चौदह फ़िल्मफ़ेयर पुरस्कार जीते हैं। वे और दिलीप कुमार ही ऐसे दो अभिनेता हैं जिन्होंने साथ फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का पुरस्कार आठ बार जीता है। 2005 में भारत सरकार ने उन्हें भारतीय सिनेमा के प्रति उनके योगदान के लिए पद्म श्री से सम्मानित किया।

ख़ान के माता पिता पठान मूल के थे। उनके पिता ताज मोहम्मद ख़ान एक स्वतंत्रता सेनानी थे और उनकी माँ लतीफ़ा फ़ातिमा मेजर जनरल शाहनवाज़ ख़ान की पुत्री थी।

ख़ान के पिता हिंदुस्तान के विभाजन से पहले पेशावर के किस्सा कहानी बाज़ार से दिल्ली आए थे, हालांकि उनकी माँ रावलपिंडी से आयीं थी। ख़ान की एक बहन भी हैं जिनका नाम है शहनाज़ और जिन्हें प्यार से लालारुख बुलाते हैं। ख़ान ने अपनी स्कूली पढ़ाई दिल्ली के सेंट कोलम्बा स्कूल से की जहाँ वह क्रीड़ा क्षेत्र, शैक्षिक जीवन और नाट्य कला में निपुण थे| स्कूल की तरफ़ से उन्हें “स्वोर्ड ऑफ़ ऑनर” से नवाज़ा गया जो प्रत्येक वर्ष सबसे काबिल और होनहार विद्यार्थी एवं खिलाड़ी को दिया जाता था| इसके उपरांत उन्होंने हंसराज कॉलेज से अर्थशास्त्र की डिग्री एवं जामिया मिलिया इस्लामिया विश्वविद्यालय से मास कम्युनिकेशन की मास्टर्स डिग्री हासिल की।

अपने माता पिता के देहांत के उपरांत ख़ान 1991 में दिल्ली से मुम्बई आ गए| 1991 में उनका विवाह गौरी ख़ान के साथ हिंदू रीति रिवाज़ों से हुआ|उनकी तीन संतान हैं – एक पुत्र आर्यन (जन्म 1997) और एक पुत्री सुहाना (जन्म 2000) व पुत्र अब्राहम।

2004 शाहरूख ख़ान के लिये एक और महत्वपूर्ण वर्ष रहा। इस साल की उनकी पहली फ़िल्म थी फ़राह खान निर्देशित मैं हूँ ना, जो ख़ान द्वारा सह-निर्मित भी थी| यह फ़िल्म बॉक्स ऑफिस पर एक बड़ी हिट सिद्ध हुई| उनकी अगली फ़िल्म थी यश चोपड़ा कृत वीर ज़ारा, जो उस साल की सबसे कामयाब फ़िल्म थी और जिसमे खान को अपने अभिनय के लिये कई अवार्ड और बहुत प्रशंसा मिली। उनकी तीसरी फ़िल्म थी आशुतोष गोवारिकर निर्देशित स्वदेश, जो दर्शकों को सिनेमा-घरों में लाने में तोह सफल ना हो सकी लेकिन उसमें ख़ान के भारत लौटे एक अप्रवासी भारतीय की भूमिका को सरहाया गया और खान ने अपना छठवाँ फ़िल्मफ़ेयर सर्वश्रेष्ठ अभिनेता पुरस्कार जीता।

उम्मीद है आपको हमारी पोस्ट पसंद आई होगी। अगर आपको हमारी ये पोस्ट पसंद आई हो तो कमेंट करें और अपने दोस्तों से जरूर शेयर करें।

LEAVE A RESPONSE

Your email address will not be published.