TimesSpeak.com

Welcome To The World Of News Articles

Discoveries

ऐसी रोचक बातें जो आपको जानना बहुत जरुरी है

ऐसी रोचक बातें जो आपको जानना बहुत जरुरी है

जिस सनस्क्रीन का उपयोग आप हर रोज करते हैं क्या उसका इतिहास जानना नहीं चाहेंगे।

यह फ्रिज नुमा मशीन वह “सनटैन बेंडिंग मशीन” है, जिसने दुनिया भर में खरबों रुपए का बाजार तैयार किया और लाखों लोगों को रोजगार दिया।

दरअसल 1950 के आसपास अमेरिका व अन्य पश्चिमी देशों में समुद्री बीच पर जाने का चलन तेजी से बड़ा मगर वहां तीखी धूप होने से महिलाओं की त्वचा काली पड़ जाती थी।
तब इस मशीन की खोज हुई, इसमें एक खास द्रव्य भरा होता था जिसे महिलाएं समुद्र तट पर जाने से पहले अपने शरीर पर लगा लेती थी।
यह द्रव्य उनकी त्वचा को सूर्य की किरणों से सुरक्षित रखता था।
तब यह खोज क्रांतिकारी मानी गई, और रातों रात दुनियाभर के बाजारों में धाक जमा ली।
आज उसी द्रव्य को सनस्क्रीन के रूप में आप लोग इस्तेमाल करते हैं।

2017 की एक ऐसी खोज आपके सोचते ही कम्प्यूटर उसको कर देगा टाइप, अभी पढ़े

चीन की सिंघुआ यूनिवर्सिटी में दिमाग को पढ़ने वाला ऐसा कंप्यूटर बनाया है, जो दिमाग के संकेतों को शब्दों में बदल देता है।

यह एक ऐसी तकनीक है जिसकी मदद से आपको बोलकर टाइप करने के लिए हाथों की जरुरत ही नहीं पड़ेगी कंप्यूटर से तरंगे निकलेंगी जो दिमाग को पड़ेगी। सिर पर एक टोपीनुमा डिवाइस पहनकर आप बस सोच कर ही टाइप करें सकेंगे।

इस डिवाइस का नाम स्टेडी स्टेट विसुअल इवोक्ड पोटेंशियल सिस्टम है। इस डिवाइस को कनेक्ट करके जब व्यक्ति वर्चुअल की-बोर्ड पर फोकस करेगा तो यह सिस्टम मस्तिष्क से निकलने वाली तरंगों को शब्दों में बदल देगा। यह बड़े पैमाने पर संभव हुआ तो शब्दों की दुनिया में बहुत बड़ा बदलाव ला देगा।

इसके प्रभाव-

तकनीक का उपयोग मेडिकल रिहैब गेमिंग नेविगेशन और मोबाइल से होने वाले कामों सहित अन्य क्षेत्रों में किया जा सकता है पढ़ने लिखने के कामों में कंप्यूटर की उपयोगिता और सार्थक होगी

 

आपने जामुन खाये तो खूब होंगे पर जामुन कुछ ऐसा भी हो सकता है की आप दांतो तले उंगली दबा लेंगे।

 

भारतीय तकनीक संसथान (आई आई टी) रुड़की के वैज्ञानिको ने जामुन फल से सस्ते सौर सेल बनाने का तरीका ढूंढ निकाला है।
शोधकर्ताओं ने जामुन में पाये जाने वाले प्राकृतिक वर्णक (पिग्मेंट) का इस्तेमाल सस्ते प्रकाश संवेदी के तौर पर किया, जिसका इस्तेमाल रंजक (डाई) संवेदी सौर सेल या ग्रेजल सेलों में किया जाता है दृश्य प्रकाश अवशोषित करने की अपनी क्षमता के जरिए जामुन में पाए जाने वाले यह अणु बैटरी में अहम भूमिका निभाते हैं।
शोधकर्ताओं ने इथेनॉल के इस्तेमाल से जामुन से डाई निकाली।
प्रमुख शोधकर्ता सुमित्रा सहपाठी के मुताबिक जामुन के गहरे रंग और आईआईटी परिसर में जामुन के पेड़ो की बड़ी संख्या के चलते यह विचार आया।

इसके फायदे-

जामुन की तत्वों से सस्ती बैटरी बनाने की खोज आने वाले समय में क्रांतिकारी साबित हो सकती है इससे भारत ही नहीं बल्कि अन्य देशो के दूरदराज ग्रामीण इलाकों में प्राकृतिक अवयवों से बनी सस्ती बैटरी कारगर बदलाव ला सकती है।

LEAVE A RESPONSE

Your email address will not be published.